Departure

Home » Histroy » Departure

तत्कालिन मुगल सम्राट औरंगजेब द्वारा दमन :- मुगल सम्राट औरंगजेब का शासन काल (सं. १७०५-१७६४) ब्रज के हिन्दुओं के लिए बडे संकट का युग था। उस धर्मोन्ध बादशाह ने राज्याधिकार प्राप्त करते ही अपने मजहबी तास्मुब के कारण ब्रज के हिन्दुओं को बलात् मुसलमान बानाने का भारी प्रयत्न किया, और उनके मन्दिर-देवालयों को नष्ट-भ्रष्ट करने का प्रबल अभियान चलाया था। ब्रज के धर्माचार्यों और भक्तजनों के लिए जीवन मरण की समस्या पैदा हो गई थी। पुष्टि संप्रदाय के वल्लभवंशीय गोस्वामियों को तो अपना सर्वनाश ही होता दिखलाई देने लगा, कारण था कि उनका मुगल बादशाहों से विशेष संबंध रहा था और वे उनसे लाभान्वित भी हुए थे तथा मन्दिर देवालयों में बड़े आनन्द और धूमधाम के धार्मिक आयोजन हुआ करते थे, अतः वे औरंगजेब की आँखों में सबसे अधिक खटक रहे थे।